युवा पीढ़ी अपनी समृद्ध विरासत पर करें गर्व: प्रो. निर्मला एस. मौर्य

 

सिद्दीकपुर, जौनपुर वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर में सोमवार को आज़ादी के अमृत महोत्सव में विश्व विरासत सप्ताह के अंतर्गत विविध कार्यक्रम हुए। कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य के साथ शिक्षक एवं विद्यार्थियों ने मुख्य द्वार पर स्थित अशोक स्तम्भ पर देश की विरासतों को सुरक्षित रखने संकल्प लिया। इस मौके पर कुलपति प्रो. निर्मला एस मौर्य ने कहा कि इस विवि ने देश की विरासतों से समाज को जोड़े रखने में अपना अभिन्न योगदान दिया है। विवि के मुख्य द्वार का हमारी सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक अशोक स्तम्भ इस वर्ष स्थापित किया गया है। वहीं भव्य तिरंगा झंडा युवाओं में निरंतर देश भक्ति की भावना जागृत कर रहा है। राष्ट्र की आत्मा विरासतों में ही बसती है.उन्होंने कहा कि आज की युवा पीढ़ी अपनी समृद्ध विरासत पर गर्व करें और संरक्षित करने में अपना योगदान दे। कुलसचिव महेंद्र कुमार ने विद्यार्थियों को अपनी संस्कृति से जुड़े रहने के लिए प्रेरित किया। इसके पहले संकाय भवन के कांफ्रेंस हाल में हमारी संस्कृति हमारी विरासत कार्यक्रम में संकायाध्यक्ष प्रो. अजय प्रताप सिंह ने कहा कि भारत की संस्कृति बहुत ही समृद्ध रही है। इसी क्रम में जनसंचार विभाग के अध्यक्ष डॉ. मनोज मिश्र ने कहा कि दुनिया में सबसे प्राचीन धरोहरों में हमारी पांडुलिपियाँ, वास्तुकला, मूर्तिकला, सांस्कृतिक परिवेश, बौद्धिक सम्पदा सबसे ऊंचे पायदान पर है। उन्होंने कहा कि आज हमें पूर्वांचल की समृद्ध विरासत मातृभाषा अवधी एवं भोजपुरी को भी संरक्षित और समृद्ध करने की जरूरत है। डॉ. मनोज पाण्डेय ने चलचित्र के माध्यम से भारत की प्रमुख धरोहरों और उसके ऐतिहासिक, सामाजिक महत्व के बारे में बताया। कार्यक्रम में विषय प्रवर्तन डॉ. जान्हवी श्रीवास्तव एवं संचालन डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर ने किया। इस अवसर पर प्रो. मानस पाण्डेय, प्रो. देवराज, प्रो. राजेश शर्मा, प्रो. मुराद अली, डॉ. अवध बिहारी सिंह, डॉ. गिरिधर मिश्र, डॉ. चन्दन सिंह, डॉ. पुनीत धवन, अन्नू त्यागी, डॉ लक्ष्मी प्रसाद मौर्य समेत तमाम लोग उपस्थित रहे।

Related

जौनपुर 4433742268182571161

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item