मां की तेरहवी के पहले ही पुत्र भी चल बसा

 सुइथाकला, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के पट्टीनरेन्द्रपुर निवासी अधिवक्ता दिवाकर तिवारी का 73 वर्ष की अवस्था में मंगलवार को निज निवास पर निधन हो गया। उनके निधन की खबर लगते हीं क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गयी। विदित है कि स्व. तिवारी की 95 वर्षीया माता महेश्वरी देवी, जो स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी की धर्मपत्नी थी, का निधन बीते 28 अक्टूबर हो गया था। इसके निमित्त मंगलवार को तेरहवी थी। इसी बीच दैवयोग से तेरहवी के एक दिन पूर्व हीं उनके पुत्र दिवाकर तिवारी का निधन भी हो गया। बारहवें दिन हुयी दूसरी मौत से परिवार में दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। उनका अन्तिम संस्कार गोमती नदी के तट पर स्थित अमिलिया घाट पर हुआ जहां उनके ज्येष्ठ पुत्र मनोज तिवारी ने मुखाग्नि दी। इस दौरान शोक संवेदना प्रकट करने के लिए भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item