गमगीन माहौल में गौरी का किया गया अंतिम संस्कार

 

जौनपुर। विकास खंड मछलीशहर के गांव तिलौरा में सोमवार को राम जानकी मठ तिलौरा के परिसर में गौरी नामक बछिया का अंतिम संस्कार किया गया। रविवार की देर रात को ठण्ड लगने से गौरी की मौत हो गई थी। मठ के मठाधीस रविन्द्र जी महाराज का कहना है कि यह बछिया दिन रात उनके आश्रम के आस पास ही रहती थी अन्य गायें दिन में जंगल में चरने चली जाती थी लेकिन वह आश्रम का परिसर नहीं छोड़ती थी ।यहां तक कि रात में आकर उनके पास विश्राम भी करती थी। नित्य प्रति साथ रहने के कारण इस बछिया से उनका बहुत लगाव हो गया  था। उन्होंने इसे गौरी नाम दिया था आश्रम में आने जाने वाले सभी भक्त इसे गौरी नाम से ही पुकारते थे। सोमवार को वनवासियों ने दोपहर में मंदिर परिसर में ही गड्ढा खोदा और लोगों ने वैदिक मन्त्रोंत्चार के साथ फूल माला और कफ़न अर्पित कर गौरी को अंतिम विदाई दी।

आपको बताते चलें कि राम जानकी मठ परिसर में जन सहयोग से एक गौशाला निर्माण का कार्य चल रहा है। मठ के मठाधीस रवीन्द्र जी महाराज का कहना है कि जब गौशाला बन कर तैयार हो जायेगी तो अपनी इसी प्यारी बछिया के नाम पर वह नई गौशाला का नाम' गौरी गौशाला' रखेंगे।

गौरी के अंतिम संस्कार में रवीन्द्र जी महाराज के अलावा राकेश जी व्यास, चंचल सिंह, अयोध्या प्रसाद, कृष्ण कान्त पाण्डेय और पंडित मिश्रा उपस्थित रहे।

Related

डाक्टर 707107917570949256

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item