डेंगू मच्छरों से बचाव के लिए करायी गई फागिंग

 

जौनपुर। विकास खंड मछलीशहर की ग्राम पंचायत बामी में वृहस्पतिवार को फागिंग का कार्य ग्राम प्रधान श्रीमती सरोज सिंह की तरफ से कराया गया। फागिंग का कार्य गांव के उपाध्याय बस्ती और हरिजन बस्ती में मच्छरों की अधिक सघनता वाले भागों में करवाया गया। इस सम्बन्ध में प्रधानपति शैलेंद्र सिंह का कहना है कि फागिंग का कार्य छोटी मशीन से कराया जा रहा था किन्तु छोटी मशीन की रिफिल समाप्त हो जाने के कारण फागिंग के लिए बड़ी मशीन का सहारा लिया गया लेकिन बड़ी मशीन वास्तव में शहरी इलाकों के लिए ही व्यवहारिक है जहां सड़क पर तेजी से फागिंग का कार्य दोनों तरफ बने घरों के बीच रनिंग में करके पूरा किया जाता है। ग्रामीण इलाकों में जहां लोगों के घर बेतरतीब ढंग से दूर- दूर होते हैं वहां के लिए छोटी मशीन का प्रयोग आसानी से लक्षित स्थानों पर किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि रिफिल जौनपुर में नहीं मिल पा रही थी जिस कारण फागिंग का कार्य नहीं हो पा रहा था। आनलाइन बुकिंग के बाद रिफिल मिल गयी है अतः फागिंग का कार्य पुनः शुरू करा दिया गया है।

आपको बताते चलें कि जैसे -जैसे ठंड बढ़ती जाती और न्यूनतम तापमान में गिरावट आती जाती है ऐसे में सामान्य तौर पर माना जाता है कि लार्वा से मच्छर बनने की प्रक्रिया विलम्बित होना शुरू हो जाती है जिससे डेंगू के मच्छरों की प्रजनन दर सीमित होने लगती है। ठंड बढ़ने से डेंगू के मच्छरों की शारीरिक सक्रियता कम होने लगती है जिससे डंक मारने की उनकी  क्षमता भी कम हो जाती है। अब जबकि ठंड बढ़ना शुरू हो गई है ऐसे में जनपद में डेंगू के मरीजों की संख्या घटने की उम्मीद की जा सकती है।

Related

डाक्टर 2726328184609837966

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item