संस्कार भारती जौनपुर का 20 दिवसीय चित्रकला व कत्थक कार्यशाला सम्पन्न

 

जौनपुर। कला एवं साहित्य की अग्रणी संस्था संस्कार भारती जौनपुर, राज्य ललित कला अकादमी व उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 20 दिवसीय चित्रकला व कथक नृत्य की कार्यशाला का समापन हो गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिलाधिकारी मनीष वर्मा सहित उनकी पत्नी डा. अंकिता राज रहीं। अतिथियों सहित कार्यक्रम अध्यक्ष वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. स्मिता श्रीवास्तव व सुजीत कुमार प्रान्तीय महामंत्री ने कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर पुष्प अर्चन व दीप प्रज्ज्वलित करके किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में संस्कार भारती ध्येय गीत डा. ज्योति दास, ज्योति श्रीवास्तव, मधुलिका अस्थाना व डा. नरेन्द्र पाठक ने संयुक्त रूप से प्रस्तुत किया। कथक प्रशिक्षक डा. प्रिया श्रीवास्तव ने कथक के बारे में संक्षिप्त जानकारी दिया। सर्वप्रथम बच्चों ने गुरु वन्दना की प्रस्तुति किया। तत्पश्चात कनिष्ठ व वरिष्ठ वर्ग के बच्चों ने कथक के विभिन्न प्रकार यथा टुकड़ा, लहरा व चक्रदार द्वारा नृत्य प्रस्तुत किया गया। फिर सभी बच्चों ने अपनी माताओं को समर्पित तुझमें रब दिखता है का भावपूर्ण नृत्य प्रस्तुत किया। डा. शैली निगम, रोमा अधिकारी व डा. प्रिया ने भावपूर्ण नृत्य का प्रदर्शन किया जो बहुत ही सुंदर था। अनुराधा भाटिया ने भगवान कृष्ण पर आधारित भाव नृत्य प्रदर्शन किया। इस मनमोहक प्रस्तुति से पूरा सभागार तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। कथक नृत्य कार्यशाला के प्रमुख प्रशिक्षक की रोमा अधिकारी व डा. प्रिया श्रीवास्तव रहीं। इसी के साथ चल रहे 20 दिवसीय चित्रकला कार्यशाला के प्रमुख प्रशिक्षक कलाविद् रविकांत जायसवाल के निर्देशन में बच्चों ने चित्रकला का प्रशिक्षण प्राप्त किया। बच्चों द्वारा बनाई गई चित्रकला का प्रदर्शन चित्र दीर्घा में किया गया जिसको देख जिलाधिकारी मनीष वर्मा सहित सभी अतिथियों ने प्रशंसा किया। इसी क्रम में मुख्य अतिथि श्री वर्मा ने कार्यशालाओं के प्रशिक्षकों का सम्मान स्मृति चिन्ह व अंगवस्त्रम देकर किया गया। साथ ही सभी अतिथियों को पुष्प गुच्छ, शाल व स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया। प्रान्तीय महामंत्री सुजीत कुमार ने बताया कि यह कार्यक्रम बाबा योगेन्द्र जी को समर्पित किया गया है जो संस्कार भारती के संस्थापक सदस्य थे। विगत 10 जून को 98 वर्ष की आयु में लखनऊ मेें उनका निधन हो गया। अन्त में अथितियों ने सभी बच्चों को प्रमाण पत्र देते हुये कार्यशाला के आयोजन में सभी सहयोगियों को सम्मान, स्मृति चिन्ह व अंगवस्त्रम दिया गया। कार्यक्रम का संचालन विष्णु जी एवं ऋषि श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर धर्मवीर जी, पूर्व चेयरमैन दिनेश टंडन, कर्मचारी नेता निखिलेश सिंह, श्याम मोहन अग्रवाल, सुरेन्द्र प्रताप सिंह, सुधीर पाण्डेय, डा. सुभाष चंद्र सिंह, डा. विजय सिंह, अंकुर शुक्ला आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम को सफल बनाने में अमित गुप्ता, अमित श्रीवास्तव, अंकुर मिश्रा, अरुण केसरी, प्रदीप जिद्दी, अमरजीत, आशीष जायसवाल, अवधेश श्रीवास्तव, बालकृष्ण साहू, मधुलिका, मनीष अस्थाना, जय सिंह, आशीष गुप्ता, सीए सुजीत अग्रहरी, रवि गुप्ता, राजेश किशोर, ज्योति श्रीवास्तव, कमलेश जी, शशांक सिंह, सुषमा गुप्ता, संजय अग्रहरी, प्रेम प्रकाश, शिव नारायण, बल्ला जी, विष्णु सहाय का सराहनीय योगदान रहा। कार्यक्रम का समापन वंदे मातरम गीत से हुआ। अन्त में संस्थाध्यक्ष डा. ज्योति दास ने समस्त आगंतुकों के प्रति आभार व्यक्त किया।

Related

डाक्टर 6484038303300524590

एक टिप्पणी भेजें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item