पेसमेकर लगने से हाजी कुतबुद्दीन को मिली नई जिंदगी

 खेतासराय(जौनपुर) स्थानीय थाना क्षेत्र के बाराकला गांव निवासी हाजी कुतबुद्दीन का क़स्बे के अल्ज़फर हॉस्पिटल में पेसमेकर प्रत्यारोपण का सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया गया।उनकी हृदय गति कम होने पर पेसमेकर लगाकर नई जिंदगी मिली।  

अमूमन यह सेवा ज़िले में न होने की वजह से लोगों महानगरों का चक्कर लगाना पड़ता था। यहाँ पेसमेकर का प्रत्यारोपण करने वाले डीएम कार्डियोलॉजी डॉ उत्तपल कुमार ने मीडिया कर्मियों को बताया कि यह डिवाइस उन लोगों के लिए मददगार होती है जिनकी हृदय गति कम होती है।आमतौर इंसान की हार्ट मोमेंट 60 से 100 के बीच होती है। यदि हृदय गति 40 प्रति मिनट से भी कम होतो चक्कर और और आँखों के सामने अंधेरा छा जाता है। यहाँ तक बेहोशी का ख़तरा रहता है।समय पर ईलाज न होने पर जान भी गवानी पड़ सकती है।

 पेसमेकर ही हृदय गति को रेगुलेट कर सकती है। 84 वर्षीय हाजी कुतबुद्दीन की दिल की धड़कन अब सामान्य है। हॉस्पिटल के प्रबंध निदेशक डॉ मोहसिन खान ने बताया कि अब तक पेसमेकर प्रत्यारोपण बड़े महानगरों तक सुविधा रही। अब यहाँ भी यह सुविधा उपलब्ध है। 

 क्या है पेसमेकर.. 

 खेतासराय(जौनपुर) पेसमेकर एक छोटा सा उपकरण होता है। जब हार्ट सही से काम नही करता है और फेल होने लगता है तो दिल की धड़कन को सामान्य करने के लिए पेसमेकर का सहारा लगाया लिया जाता है।पेसमेकर को रिचार्ज करने के लिए बैटरी को निश्चित समय पर बदलना पड़ता है।यह हृदय की मांसपेशियों को संकेत भेजता है।

Related

JAUNPUR 1099795455681767088

एक टिप्पणी भेजें

  1. Shukriya Jafar hospital Nagar kheta Sarai Jaunpur yah mushkil bhara ilaaj pahle bade Nagar mein hua Karta tha ab hamare Nagar Panchayat khetasaray ki Jafar hospital mein ho raha hai badi Khushi ki baat hai

    जवाब देंहटाएं

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item