विश्व दमा दिवस पर गोष्ठी का किया गया आयोजन

जौनपुर। विश्व दमा दिवस पर मंगलवार को शहर के तमाम चिकित्सक एकत्रित होकर जनता को दमा का पता लगाने तथा इसके नियंत्रणकारी उपचार के विषय में जागरूक करने हेतु आगे आये। एक दवा कम्पनी के बैनर तले जिला क्षय रोग चिकित्सालय में आयोजित गोष्ठी में चिकित्सकों ने कहा कि दमा के जिन रोगियों का सही उपचार नहीं होता, उनमें दमा के आक्रमण का खतरा काफी बढ़ जाता है और अक्सर उन्हें अस्पताल में भर्ती करने की नौबत आ जाती है। कभी-कभी यह जानलेवा भी साबित होता है। यदि दमा के उपचार में आवश्यक दिशा निर्देशों का पालन किया जाय तो दमा को नियंत्रित करने की कीमत में काफी कमी लायी जा सकती है। इससे मरीज व सरकार दोनों को फायदा होता है। इसी क्रम में वरिष्ठ चिकित्सक डा. आरपी यादव, डा. आरए मौर्या, चेस्ट स्पेशलिस्ट डा. एके श्रीवास्तव ने कहा कि दमा से पीड़ित बच्चे में इनहेलेशन थेरेपी की शुरूआत शीघ्र करनी चाहिये जिससे बीमारी को नियंत्रित करने और उसे अटैक से बचाने तथा उसके फेफड़ों को सुरक्षित रखने में मदद मिलती है। इससे उसकी जिन्दगी की गुणवत्ता में भी सुधार आता है। इसके अलावा अन्य चिकित्सकों ने अपना विचार व्यक्त किया। इस अवसर पर तमाम चिकित्सक, दवा प्रतिनिधि सहित अन्य सम्बन्धित उपस्थित रहे।

Related

स्वास्थ 8932967885438655672

टिप्पणी पोस्ट करें

emo-but-icon


जौनपुर का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल

आज की खबरे

साप्ताहिक

सुझाव

संचालक,राजेश श्रीवास्तव ,रिपोर्टर एनडी टीवी जौनपुर,9415255371

जौनपुर के ऐतिहासिक स्थल

item